नपुंसकता का होम्योपैथिक इलाज – Napunsakta Ka Homeopathic ilaj

नपुंसकता का होम्योपैथिक इलाज – Napunsakta Ka Homeopathic ilaj

 नपुंसकता का कारण

जीवन में चिन्ता (tension), घर का छोटा होना जिससे संभोग के समय एकांत की कमी, आर्थिक चिंता से मन का घिरा होना, अधूरा सेक्स ज्ञान, मधुमेह का रोग, हस्तमैथुन, गुप्त चोट, मोटापा, सम्भोग के समय डर, बहुमूत्र तथा अपच की बीमारी, अधिक शराब पीना आदि कारणों से नपुंसकता का रोग होता है। यह  मानसिक, धातुक्षय, शुक्रक्षय, चोट से उत्पन्न आदि कारणों से होती है।

नामर्दी की पहचान

संभोग करते समय लिंग का उत्तेजित न होगा, उत्तेजना आने के बाद तुरंत वीर्य निकल जाना आदि इस रोग रोग के मुख्य लक्षण हैं। इससे पुरुष लज्जित होकर दुःखी रहने लगता है। मानसिक चिन्ताओं के बवंडर में घूमता रहता है। सर चकराता है, कलेजे की धड़कन बढ़ जाती है अर्थात व्यक्ति मानसिक रूप से अशांत दिखाई देने लगता है।

नपुंसकता का होम्योपैथिक इलाज

  • संभोग के समय लिंग में उत्थान का न होना, दिमागी कमजोरी, शीघ्र पतन आदि में सेलेनियम (Selenium 30) बड़ी कारगर दवा है।
  • ध्वजभंग अर्थात इच्छा होते हुए भी लिंग में शक्ति हीनता, मैथुन शुरू करते समय उत्तेजना क्षीण। इन सब लक्षणों में एबाइनासेट दें।
  • यदि महुमेह रोग के कारण नपुंसकता हो, तो मास्कस का सेवन करें।
  • स्नायुविक कमजोरी के कारण नपुंसकता हो, तो योहिम्बनम की 10 बूंदें सुबह सेवन करें।
  • यदि गर्मी के रोग के कारण नपुंसकता हो, तो मर्कसोल दें।
  • ज्यादा संभोग करने के कारण यदि शरीर में कमजोरी आ गई हो और लिंग में उत्थान न आता हो, तो जिनसेंग तथा फॉस्फोरस 200 दें।
  • बहुत ज्यादा शुक्र नष्ट होने के कारण छोटी उम्र में ही नपुंसकता, ध्वजभंग तथा कमजोरी मालूम पड़े, तो एग्नस दें।
  • लिंग में उत्थान की कमी, दिमाग चले पर लिंग ठंडा, उत्थान बिलकुल नहीं। इन लक्षणों में लाइकोपोडियम 200 दें।
  • अचानक चोट तथा मानसिक अशांति की वजह से लिंग में उत्थान न आता हो, तो आर्निका 200 दें।
  • स्वप्न दोष, गुदामैथुन तथा हस्तमैथुन के कारण नपुंसकता के लिए जेल्सीमियम 200 दें।
  • लिंग की शिथिलता को दूर करने के लिए योहिम्बनम 3 बड़ी कारगर दवा है।
  • यदि ज्यादा मैथुन क्रिया करने से लिंग में शिथिलता आ गई हो, तो फॉस्फोरस 200 दें।
  • योनि देखकर भी लिंग में शक्ति तथा उत्तेजना की कमी, स्वप्न दोष तथा शारीरिक कमजोरी। इन लक्षणों में यूरेनियम नाइट दें।
  • संभोग के समय लिंग में शिथिलता, उत्तेजना की कमी तथा कामेच्छा का मर जाना। इन सब लक्षणों में अर्जेंटाइना एक यही दवा है।

नपुंसकता के लिए होमियोपैथी दवा बिल्कुल कारगर और सुरक्षित है। आप यहाँ अपने रोग के कारण और दवा के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। अगर आप संतुष्ट नहीं हमारे पोस्ट से तो डॉक्टर से सलाह भी अवश्य लें।

नपुंसकता का बायोकैमिक इलाज

  • अधिक मैथुन के कारण पैदा होने वाली नपुंसकता, मैथुनेच्छा लेकिन लिंग में उत्तेजना की कमी। इन लक्षणों में नेट्रम म्यूर 30X दें।
  • प्रमेह या अधिक हस्तमैथुन करने के कारण नपुंसकता, मूत्राशय में सूजन, आंखों के सामने अंधेरा, बेहद कमजोरी, संभोग के समय लिंग का ढीला पड़ जाना, दिमागी कमजोरी, चिड़चिड़ापन आदि लक्षणों में काली फॉस 6X दें।
  • पुराने सूजाक के कारण नपुंसकता, मैथुन इक्छा कम, अंडकोषों में खुजली। इस हालत में साइलीशिया 30 दें।
  • रोज स्वप्नदोष होने की शिकायत, संभोग पूर्ण होने से पहले स्खलन, दिमागी कमजोरी लक्षणों में काली फॉस 6X दें।

 

 

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *